Friday, 16 February 2018

किस वजह से ये इंसान आज बहुत कुछ भुगत रहा ?




एक भक्त ईश्वर से: -  "मुझे जीवन भर सुखशांति चाहिये।"
ईश्वर ने तुरंत हां कर दी।

भक्त......"मुझे परिवार का भी जिंदगी भर सुख चैन चाहिये"।
ईश्वर ने तुरंत हां कर दी।

फिर भक्त..."मुझे अपने रिश्तेदारों की भी सलामती चाहिये।"
ईश्ववर ने हां कर दी।



भक्त बहुत प्रसन्न हुआ कहा .....मुझे मेरे जीवन में कोई दुःख तकलीफ नही चाहिये।
ईश्वर ने तुरंत हामी भर दी।

भक्त बोला... .."आपकी कोई शर्त ?"

ईश्वर हंसे और बोले ...बस छोटी सी.....रोज सिर्फ एक घंटा नाम सिमरन...।

भक्त बोला...मैं ये नही कर सकता.।
ईश्वर बोले

"तेरे एक घंटा नाम सिमरन के बदले मैं तुझे तेरे, तेरे परिवार, और रिश्तेदारों को उम्र भर सुख चैन खुशियां देने का वादा करता हूं।" जिंदगी में तुझे कोई दुख दर्द तकलीफ नही होगी। तुम हर टेंशन से मुक्त रहोगे।

भक्त बोला...ना बाबा ना, मैं एक घंटा नाम सिमरन नही कर सकता.

ईश्वर बोले......एक बार फिर सोच लो।

भक्त.."नहीं होगा।

तब से आज तक ये इंसान दुख दर्द तकलीफें भुगत रहा है। वो नाम दान तो ले लेता है। ईश्वर से वादा भी करता है...दावा तक करता है। पर सिर्फ एक घंटा नाम सिमरन नही कर सकता।

ईश्वर कहते है...
"यह इंसान भी अजीब है..
ढाई घंटे फिल्म देख सकता  है।
ढाई घंटे डाक्टर के पास जाकर लाईन में बैठ सकता है।
ढाई घंटे योगा तक कर सकता है, अपनी तबियत ठीक करने के लिये।
पूरा पूरा दिन ट्रेन में सफर कर सकता है।
पार्टियों में घंटों टाईम-पास कर सकता है।"

लेकिन.................

*जो ईश्वर मात्र एक घंटा नाम सिमरन के बदले मनुष्य के हर दुख दर्द तकलीफ संकट बीमारियां तक दूर करने की गारंटी देता हैं।जिंदगी में खुशियां ही खुशियाँ लाने का वादा करता है। उसकी यह छोटी सी शर्त इस इंसान को मंजूर नहीं है।*

शायद...........
इसी वजह से ये इंसान आज, बहुत कुछ, भुगत रहा है।
.....हो सके तो नाम सिमरन जरुर करें। अपने लिए अपनी आत्मा के कल्याण के लिए..

1 comment:

Popular Posts